गुरुवार, 29 मार्च 2012

एक करोड़ पचास लाख लोग बेरोजगार हो गए.....


दोस्तों जब जब देश संकट की घड़ी में होता है तब एक समाज सेवक की भूमिका और बढ जाती है, और जब समाज सेवक के साथ आप कवि भी हो,  और आपकी कलम खामोश रहे, ये एक जाग्रत कवि और समाज सेवक को शोभा नहीं देता, अभी पीछे एक आर सी एम् नाम की कम्पनी को बंद कर दिया गया, कारण कुछ भी रहा हो, पर इस कारण से देश के लगभग एक करोड़ पचास लाख लोग बेरोजगार हो गए, एक व्यक्ति की गलती और इतने लोग बेरोजगार, जंतर मंतर पर बैठे थे, मिडिया में कोई खबर नहीं, मेरे पास फ़ोन आया, की प्रभात जी आप आये, मैं वह तीन दिन (२१ मार्च, २३ मार्च और २५ मार्च ) गया उनका समर्थन करने उन्हें उनका होंसला बढाने पंहुचा, अरे भाई वह 500 लोग भूख हड़ताल पर थे, और हज़ारो धरने पर, 23 तारीख को शहीद दिवस के दिन की विडिओ आपके सामने रखता हूँ, आशा है आप को भी पसंद आएगी,...
--------------------------कवि प्रभात कुमार भारद्वाज"परवाना"
वेबसाईट का पता:- http://prabhatkumarbhardwaj.webs.com/ 




2 टिप्‍पणियां:

truetechworld.com ने कहा…

Prabhat Ji Baki sabhi kuch accha hai par aapki aawaz kafi dhyan lagakar sunni padti hai warna samajh nhi aat is shor ke karan. Agar sambhav ho to video se noise nikal ke post kare.

truetechworld.com ने कहा…

Prabhat Ji Appko video ke jariye sun ne ke liye kafi dhyan lagana padta hai. Agar ho sake to video se noise nikal ke post kare.